इस शिविर में सभी युवा भारतीय खिलाड़ी आईपीएल के नए सीजन के लिए तैयारी करेंगे. इस शिविर के दौरान मुख्य रूप से ध्यान टीम के विकास के साथ-साथ क्रिकेट कौशल को सुधारने पर होगा. राजस्थान रॉयल्स के मुख्य कोच बारुचा ने कहा, “हम बल्लेबाजी कोच के रूप में अमोल को अपने साथ शामिल कर काफी गर्व महसूस कर रहे हैं. घरेलू क्रिकेट में उनका रिकॉर्ड उनकी महानता को बयां करता है. युवा बल्लेबाजों को उनसे काफी कुछ सीखने को मिलेगा.”


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


अमोल ने कहा, “यह समय एक बल्लेबाज के लिए काफी महत्वपूर्ण होते हैं. टी-20 ने क्रिकेट के खेल की आकृति को ही बदल दिया है. यह खेल अधिक मनोरंजक है. इससे कभी कोई बोर नहीं होता और न ही इसकी लोकप्रियता फीकी पड़ती है. मैं इस नई भूमिका के लिए उत्साहित हूं.”

गौलतलब है कि अमोल इंडिया ए, मुंबई और आसाम टीम की तरफ से खेल चुके हैं. उन्होंने अपने करियर में प्रभावी प्रदर्शन किया है. अमोल ने 171 फर्स्ट क्लास मैचों में 11167 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 30 शतक और 60 अर्धशतक जड़े हैं. फर्स्ट क्लास मैचों में अमोल का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 260 रन रहा है. वहीं 113 लिस्ट ए मैचों में 3286 रन बनाए हैं. अमोल ने लिस्ट ए में 3 शतक और 26 अर्धशतक जड़े हैं. इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 109 रन रहा है. अमोल ने 14 टी-20 मैच भी खेले हैं.