2019 चुनाव से पहले कांग्रेस-शिवसेना में पक रही खिचड़ी, पूर्व सीएम चह्वाण ने दिए संकेत

2019 का आम चुनाव नजदीक आ रहा है ऐसे में सियासी समीकरण बदलने की उम्मीद बढ़ती जा रही है. कुछ नए समीकरण बनने के आसार दिख रहे हैं और कुछ पुराने समीकरण टूटने के कयास लगए जा रहे हैं. इस बीच महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चह्वाण के एक बयान ने सियासी समीकरण बदलने के संकेत दिए हैं.

सियासी समीकरण बदलने की उम्मीद

दरअसल कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि शिवसेना अगर बीजेपी विरोधी दलों के साथ आना चाहती है तो पार्टी को पहले राजग से नाता तोड़ कर सत्ता से हटना होगा. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने संकेत किया कि अगर उनकी पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व मंजूरी देता है तो शिवसेना और कांग्रेस के साथ औपचारिक गठजोड़ हो सकता है .


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


चह्वाण ने संवाददाताओं को बताया, “शिवसेना बीजेपी के साथ सत्ता में है और अगर यह अलग होकर बीजेपी विरोधी दलों के साथ आना चाहती है तो हमलोग इस पर विचार करेंगे और (गठबंधन के लिए) एक प्रस्ताव दिल्ली भेजा जा सकता है.’’

सियासी समीकरण बदलने की उम्मीद

बता दें कि शिवसेना महाराष्ट्र में बीजेपी के साथ सरकार में है लेकिन समय समय पर पार्टी के नेताओँ के साथ खुद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी केंद्र सरकार पर हमला बोलते रहे हैं. हालांकि बीजेपी से अलग हो कर चुनाव लड़ने पर अभी तक शिवसेना ने कोइ प्रतिक्रिया नहीं दी है.

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On
X