अब नहीं होना पड़ेगा शर्मिंगा, बस कुछ सेकेंड में बंद हो जाएगी आपकी हिचकी

हिचकी बंद

हिचकी आना बहुत आम बात है। ये किसी भी उम्र के व्यक्ति को आ सकती है। आमतौर पर हिचकी आने पर पुराने जमाने के लोग करते हैं कि तुम्हे कोई याद कर रहा है। जिसके बाद हम न जाने कितनों के नाम ले लेते हैं ताकि हिचकी बंद हो जाए। कोई कहता है कि पानी पीने से हिचकी बंद हो जाती है।

हिचकी बंद न होने से बहुत परेशानी का सामना करना पड़ा है

हम तरह तरह के उपाय अपनाते हैं लेकिन जब तक हिचकी बंद न हो जाए हमे बहुत परेशानी होती है। कभी- कभी तो ये आपको दूसरों के सामने शर्मिंदा भी कर देती है। इतना ही नही जब हमें हिचकी आती है तो फिर न हम खा सकते है न बोल सकते है। जिसके वजह से हम बहुत परेशान हो जाते है।

अगर आप इस समस्या से परेशान है तो आपके लिए यह उपाय काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इसे अजमाकर आप हिचकी से आसानी से निजात पा सकते है।



हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!




कुछ लोगों को इस बात का पता नहीं होता है कि आखिर यह हिचकी आती क्यों है। इसका वैज्ञानिक कारण कुछ और है। हिचकी हमारे डायफ़्राम सिकुड़ने से आती है। फेफड़ों में हवा भरने के लिए डायफ़्राम का सिकुड़ना जरूरी होता है। डायफ़्राम को नियंत्रित करने वाली नाड़ियों में कुछ उत्तेजना होती है जिसकी वजह से डायफ़्राम बार-बार सिकुड़ता है और हमारे फेफड़े तेज़ी से हवा अंदर खींचते हैं। इसी कारण हमें हिचकी आने लगती है।

हिचकी से तुरंत निजात पाने के लिए

आमतौर पर हिचकी से छुटकारा पाने के लिए कई तरह के घरेलू उपचार हैं लेकिन सबसे ज्यादा कारगार है यह आसान सा उपाय। इस उपाय में आपको सांस रोकना होता है। जब भी आपको हिचकी आए तो सबसे गहरी सांस लें और कुछ सेकेंड तक सांस को रोककर रखें। अब सांस को धीरे-धीरे छोड़ना शुरु करें।

साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि सिर्फ एक बार करने से हिचकी ठीक नहीं होगी बल्कि आपको दो से चार बार ये प्रकिया दोहरानी पड़ेगी। इससे आपकी हिचकी तुरंत बंद हो जाएगी। जब आप सांस रोकते हैं, तो आपके फेफड़ों में मौजूद हवा डायाफ्राम को नीचे धक्‍के देने में मदद करती है और आपको हिचकी से राहत मिलती है। साथ ही इन उपायों को भी अपना सकते हैं।

  1. हिचकी शुरु होते ही एक चम्मच शक्कर तुरंत मुंह में डाल लें। हिचकी तुरंत बंद हो जाएगी।
  2. हिचकी अधिक आने पर जीभ को जितना बाहर निकाल सकते हैं निकालें। इससे गले का वह भाग खुल जाएगा जो नाक के रास्ते और वोकल कॉर्ड को जोड़ता है और हिचकी तुरंत बंद हो जाएगी।
  3. ध्यान भटकाने से भी हिचकी दूर हो जाती है। मुट्ठी भींचने से नर्वस सिस्टम का ध्यान हिचकी से भटकता है जिससे हिचकी रुक जाती है।
  4. नाक बंद करें और पानी का बड़ा घूंट मुंह में भरें और कुछ सेकेंड मुंह में रखने के बाद पी जाएं। हिचकी बंद हो जाएगी।

loading...
loading...
=>

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*