सुरंग बनाकर की जा रही थी पेट्रोल चोरी, धमाके से हुआ पूरी साजिश का पर्दाफ़ाश

द्वारका में इंडियन ऑयल की अंडरग्राउंड पाइपलाइन में जोरदार धमाका हुआ. इस धमाके के बाद 150 फुट लंबी सुरंग मिलने से सुरक्षा एजेंसियों और दिल्ली पुलिस में हड़कंप मचा हुआ है. पाइपलाइन में वॉल्व फिट करके बदमाशों ने सुरंग खोदकर पेट्रोल चोरी करने का जुगाड़ निकाला था. तकनीकी जुगाड़ करते वक्त अचानक इसमें धमाका हुआ है. इस धमाके की आवाज एक किलोमीटर तक सुनाई देने के साथ आसपास के मकान तक हिल गए. लोगों ने ब्लास्ट से कई तरह की आशंकाएं जताते हुए पुलिस को सूचना दी.

दिल्ली हेल्थ डिपार्टमेंट ने जारी किया नोटिस, करण को सकती है 5 साल की जेल

सुरंग खोदकर पेट्रोल चोरी


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


जिले की पुलिस फोर्स, बीएसएफ की टुकड़ी, बम और डॉग स्क्वॉड के अलावा कमांडो की टीम भी पहुंची है. मुख्य आरोपी को घटनास्थल से गिरफ्तार किया गया है जबकि उसके दो साथी फरार होने में कामयाब हो गए. द्वारका नॉर्थ थाने में एक्सप्लोसिव ऐक्ट, पेट्रोलियम ऐंड मिनरल पाइपलाइंस ऐक्ट, पब्लिक प्रॉपर्टी डैमेज सहित संगीन धाराओं में एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी गई है. पाइपलाइन की रिपेयिरिंग का काम चल रहा है.

पुलिस के अनुसार, सूरज विहार के एनएसआईटी कॉलेज गेट के सामने 300 गज के प्लॉट मंगलवार रात साधे नौ बजे धमाका हुआ था. आरोपी की पहचान मोहम्मद तनवीर के रूप में हुई है. उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. पूछताछ में पता चला कि आरोपी ने पांच महीने पहले इस प्लॉट को कबाड़ गोदाम और कारों के बंपर रिपेयर के लिए लिया था. उसे ये भी पता था कि इस प्लॉट से 10 मीटर दूर आईओसी की पाइप लाइन जा रही है. ये पाइपलाइन पानीपत से बिजवासन आईओसी डिपो तक जाती है. आरोपी ने जो प्लॉट लिया, वहां एक कमरा बना था और उस पर टिन शेड पड़ा हुआ था. इसके अलावा सोफे के नीचे सुरंग बनाई गई थी. ये सुरंग तीन महीने में खोदकर बनाई गई थी. इसके बारे में आसपास के लोगों को भनक तक नहीं लगी.

ये सुरंग पांच फुट चौड़ी और 10 फुट गहरी बनाई गई थी. अन्दर अन्दर ही अन्दर इस सुरंग को 150 फुट बना लिया गया था. पाइपलाइन तक पहुँचने के बाद वहां सुराख किया गया था. इस सुराख से 2 इंच का प्लास्टिक पाइप डाल दिया गया. संभावना है कि ये सुरंग के अन्दर ही अन्दर कैन लेकर जाते थे और पेट्रोल चुराकर निकल आते थे.

आईओसी डिपो को 21 जनवरी से कंप्यूटराइज सिस्टम में प्रेशर कम दिखाई दिया. सुरक्षा टीम पाइपलाइन में सेंध की खोजबीन करने लगी. इसी बीच मंगलवार की रात हुए धमाके ने साजिश का भंडा फोड़ कर दिया. इस धमाके की वजह अचानक गैस बनना बताया जा रहा है. आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस दबिश दे रही है. प्लॉट मालिक का भी पता लगाया जा रहा है, जिसने बिना वेरिफिकेशन प्लॉट किराए पर दिया.

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X