सीमा पर लगातार तीसरे दिन भी फायरिंग, मारे गए कई पाक रेंजर्स

जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की नापाक हरकत जारी है। पाकिस्तानी सेना बॉर्डर पर लगातार फायरिंग कर रही है। आज सुबह फिर से पाकिस्तान ने आरएस पुरा और अखनूर में सीजफायर का उल्लंघन किया है। हालांकि गोलीबारी में किसी नुकसान की खबर नहीं है, वहीं भारतीय सेना का मुंहतोड़ जवाब जारी है, मीडिया रिपोर्ट के हवाले से खबर है कि भारतीय सेना ने पाकिस्तान के कई रेंजर्स को मार गिराया है।

भंसाली के बाद प्रसून जोशी को करणी सेना की धमकी, जयपुर आये तो होगी पिटाई

सेना का मुंहतोड़ जवाब


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


आपको बता दें कि गुरुवार से पाकिस्तान की तरफ से लगातार फायरिंग की जा रही है। शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कठुआ के हीरानगर से लेकर एलओसी पर पुंछ तक पाकिस्तान ने गोले बरसाए। इस गोलीबारी में बीएसएफ और सेना के दो जवान शहीद हो गए।

जबकि दो नागरिकों की मौत हो गई और दो बीएसएफ जवानों समेत 35 लोग जख्मी हो गए। 20 हजार से अधिक लोगों ने अपने घर छोड़ दिए हैं। 200 से ज्यादा मकानों को क्षति पहुंची है। भारत की करीब 40 चौकियों को निशाना बनाकर पाक ने गोले दागे हैं।

शुक्रवार सुबह करीब 6 बजे पाकिस्तान ने एक साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर रामगढ़, अरनिया, आरएस पुरा सेक्टर में गोलाबारी शुरू कर दी। कुछ ही देर बाद कठुआ के हीरानगर में गोलाबारी शुरू हो गई। शाम होते-होते एलओसी पर ज्यौड़ियां, नौशेरा और पुंछ में भी गोलाबारी शुरू हो गई।

दिनभर बार्डर पर गोलाबारी होती रही। ज्यौड़ियां में नथू टिब्बा पर हुई पाक की गोलाबारी में सेना की 6 मद्रास रेजिमेंट का जवान लांस नायक शाम अब्राहम शहीद हो गए। रामगढ़ सेक्टर में हुई गोलाबारी में बीएसएफ का हेड कांस्टेबल जगपाल सिंह शहीद हो गए।

रामगढ़ में ही बीएसएफ के दो अन्य जवान आदर्श एसएस और सतपाल सिंह घायल हो गए। इसके अलावा मारे गए नागरिकों में सई खुर्द गांव की बचनो देवी और कोरोटाना खुर्द के युवक साहिल कुमार शामिल हैं। एलओसी और बार्डर पर करीब 100 गांव पाक की गोलाबारी से प्रभावित हुए हैं।

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On
X