सजा मिलते ही लालू के घर के बाहर लगे पोस्टर, ‘भगवान श्रीकृष्ण कह रहे- लालू मेरा अवतार’

राजद सु्प्रीमो लालू यादव को चारा घोटाले के एक और मामले में सजा हुई है। चाईबासा कोषागार गबन मामले में रांची की विशेष सीबीआई अदालत ने लालू को पांच साल की सजा सुनाई है। उनके साथ पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा को भी अदालत ने दोषी करार दिया है।कोर्ट ने लालू यादव पर 10 लाख और जगन्नाथ मिश्रा पर पांच लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है।

चारा घोटाले में लालू की हैट्रिक, तीसरे मामले में मिली पांच साल की सश्रम सजा

लालू को पांच साल की सजा


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


लालू यादव के बेटे और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भाजपा और नीतीश कुमार पर पिता लालू यादव को फंसाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा- ‘बिहार का एक-एक आदमी जानता है कि लालू को इस मुकदमे में फंसाया गया है। तेजस्वी यादव ने फैसले के खिलाफ हाई कोर्ट में अपील करने की बात कही।

पोस्टर बना चर्चा का विषयः राजद सुप्रीमो लालू यादव के नई दिल्ली स्थित आवास के सामने लगा पोस्टर चर्चा का विषय बना है। इसमें बीच में भगवान श्रीकृष्ण की मौजूदगी है, जो कह रहे हैं कि लालू यादव मेरे अवतार हैं। वही पोस्टर में लालू यादव को सलाखों के पीछे दिखाया गया है। जबकि तेजस्वी यादव की भी इसमें मौजूदगी है।

बता दें, लालू यादव चारा घोटाले के देवघर कोषागार से जुड़े मामले में सजा के बाद रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं। जिस मामले में बुधवार( 24 जनवरी) को उन्हें सजा हुई, वह मामला चाईबासा कोषागार से 35 करोड़, 62 लाख रुपये फर्जी ढंग से निकाले जाने से जुड़ा है। इस घोटाले को वर्ष 1992 से 1993 के बीच अंजाम दिया गया था। घोटाले में कुल 56 लोगों को आरोपी बनाया गया था, जिसमें लालू यादव और जगन्नाथ मिश्रा आदि नेता शामिल रहे। पहले वाले मामले में कोर्ट ने लालू प्रसाद यादव को साढ़े तीन साल की सजा और 5 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था।

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X