संघ के मना करने के बाद विधायक ने लगवाई शाखा

आगरा: पावन धाम कॉलोनी में शाखा लगाने को लेकर उठे विवाद के बाद पुलिस प्रशासन बैकफुट पर नजर आ रहा है। संघ ने भले ही विवादित स्थल पर आगामी निर्णय तक शाखा नहीं लगाने का निर्णय लिया था, लेकिन बुधवार को विधायक डॉ. जीएस धर्मेश की मौजूदगी में पीएसी के तंबू के पास ही ही शाखा लगाई गई।

सोमवार को पावन धाम कॉलोनी में संघ की शाखा के दौरान दारोगा राजकुमार पर मौके पर पहुंचकर अभद्रता करने के आरोप लगे थे। संघ पदाधिकारी आधी रात तक थाने और पास के रेस्टोरेंट में डेरा डाले रहे थे। दारोगा के साथ ही इंस्पेक्टर, सीओ और एसपी सिटी पर कार्रवाई की मांग हुई थी। संघ के दो पदाधिकारियों ने एसपी सिटी और सीओ के व्यवहार पर विशेष आपत्ति जताई थी। थाने में ही संघ पदाधिकारियों ने विवादित स्थल पर शाखा लगाने का ऐलान किया था। मंगलवार को पुलिस, पीएसी और प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में शाखा लगी थी। एडीएम सिटी खुद शाखा स्थल पर कुर्सी डालकर बैठे रहे। मामले बिगड़ने से बचाने के लिए संघ की ओर से ही आगामी निर्णय तक शाखा नहीं लगाने की बात तय हुई थी। बुधवार सुबह विधायक डॉ. जीएस धर्मेश ने मौके पर पहुंच शाखा लगवाई। सूत्रों के अनुसार उन्होंने दर्जनों स्वयंसेवकों को कॉल कर बुलाया और शाखा लगवाई। इस दौरान पीएसी मौके पर ही मौजूद थी।

मुझे विवाद की जानकारी थी, लेकिन शाखा नहीं लगानी इसकी जानकारी नहीं थी। बाहर से लौटने के बाद बुधवार सुबह शाखा स्थल पर पहुंच गया। पीएसी के तंबू के पास शाखा स्थल पर ही शाखा हुई।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


विधायक जीएम धर्मेश को जानकारी नहीं थी। संगठन ने मामला सुलझने और वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशों तक शाखा नहीं लगाने का निर्णय लिया है। संबंधित शाखा फिलहाल नहीं लगेगी।

सीओ, एसपी सिटी को लेकर स्वयंसेवकों में रोष

स्वयंसेवकों और ध्वज से अभद्रता करने वाले दारोगा राजकुमार को तो लाइन हाजिर कर दिया गया है, लेकिन मामले में दूसरे अधिकारियों पर अभी कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इसको लेकर संघ के स्वयंसेवकों में रोष है। वे वरिष्ठ पदाधिकारियों से संपर्क कर रहे हैं। इनमें से कुछ सोशल मीडिया पर भी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। कहा जा रहा है कि समान विचारधारा की सत्ता में भगवा ध्वज का अपमान और स्वयंसेवकों से अभद्रता पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

विधायक पहले ही एसपी सिटी के खिलाफ कर चुके हैं शिकायत

भाजपा विधायक योगेंद्र उपाध्याय की एसपी सिटी कुंवर अनुपम सिंह से नाराजगी कोई नई नहीं है। वे तीन मार्च 2018 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उनके खिलाफ पत्र भेज चुके हैं। इसमें उन्होंने छत्ता क्षेत्र के एक मामले में मनमानी करने और उनका फोन न उठाने की शिकायत करते हुए उन्हें हटाने की सिफारिश की थी। इसके बाद भी एसपी सिटी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। शाखा लगाने को लेकर विवाद हुआ तो मंगलवार को विधायक योगेंद्र उपाध्याय और विधायक चौ. उदयभान सिंह ने एसपी सिटी की फिर शिकायत की है।

loading...

Author: Web_Wing

Share This Post On
X