ठाकुरगंज क्षेत्र में जल निगम बंधा ढाल के पास पत्थरों के ढेर पर रविवार सुबह औंधे मुंह अधेड़ पप्पू (55) का शव पड़ा मिला। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पप्पू कई सालों से पास ही स्थित एक झोपड़ी में रहता था। इंस्पेक्टर ठाकुरगंज राजकुमार के मुताबिक शव मिलने की सूचना पर गऊ घाट चौकी प्रभारी अवनीश सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने पड़ताल की तो पता चला कि कई सालों से पप्पू यहाँ कलमा देवी नाम की महिला के साथ रहता था।

इसके अलावा पप्पू के बारे में कोई जानकारी नहीं है। वह कहाँ का रहने वाला था उसके परिवार में और कौन है इसके बारे में कुछ पता नहीं चल सका है। पड़ताल की जा रही है। इंस्पेक्टर ने बताया कि प्राथमिक जांच में पता चला है कि पप्पू शराब का लती था। रात में वह शौच के लिए उठा। इस बीच ढाल से पैर फिसल गया वह पत्थरों पर गिरा जिससे उसकी मौत हो गई। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत के मूल कारणों की पुष्टि होगी।

चार दिन पहले बीमारी से हो गई थी कमला देवी की मौत  

इंस्पेक्टर ने बताया कि पप्पू जिस कमला देवी (65) के साथ रहता था उसकी चार दिन पहले मौत हो गई थी। तब से वह अकेला रह रहा था। कलमा देवी के पहले पति की कई साल पहले मौत हो गई थी। उसके बाद वह पप्पू के साथ रह रही थी। कमला देवी के तीन बेटे हैं वह दिल्ली में नौकरी करते हैं और वहीं रहते हैं। जब कमला, पप्पू के साथ रहने लगी तो उसके बच्चों ने उससे दूरी बना ली। बच्चों ने उसे छोड़ दिया था। कलमा देवी के अंतिम संस्कार में भी वह नहीं आए थे।