रक्षा मंत्री फ्रांस के लिए हुई रवाना, राफेल के मैन्‍युफैक्‍चरिंग प्‍लांट का कर सकती हैं दौरा

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण बुधवार रात को तीन दिवसीय यात्रा पर फ्रांस रवाना हुईं. फ्रांसीसी एयरोस्पेस कंपनी दसॉल्ट एविएशन से 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के मुद्दे पर पैदा हुए विवाद के बीच सीतारमण फ्रांस की यात्रा पर गई हैं. 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सीतारमण अपने फ्रांसीसी समकक्ष फ्लोरेंस पार्ली के साथ व्यापक वार्ता कर दोनों देशों के बीच रणनीतिक सहयोग बेहतर बनाने और आपसी हितों के प्रमुख क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करेंगी.

उन्होंने कहा कि सीतारमण 58,000 करोड़ रुपए के करार के तहत दसॉल्ट द्वारा भारतीय वायुसेना को 36 राफेल लड़ाकू विमानों की आपूर्ति में प्रगति का जायजा लेंगी. ऐसे संकेत हैं कि रक्षा मंत्री उस इकाई का भी दौरा कर सकती हैं, जहां राफेल विमान बनाए जा रहे हैं. 


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


अपनी वार्ता में सीतारमण और पार्ली दोनों देशों द्वारा सैन्य प्लेटफॉर्मों और हथियारों के संयुक्त उत्पादन पर भी चर्चा कर सकते हैं. इस साल की शुरुआत में फ्रांस 36 राफेल विमानों की एक और खेप भारत को बेचने के लिए भारत से बातचीत शुरू करना चाह रहा था, लेकिन भारत इसके लिए तैयार नहीं दिखा.

अप्रैल में भारतीय वायुसेना ने 114 लड़ाकू विमानों के बेड़े की खरीद प्रक्रिया शुरू की थी और दसॉल्ट एविएशन इस अनुबंध के लिए प्रमुख दावेदारों में से एक के रूप में उभरी है.

loading...

Author: Web_Wing

Share This Post On
X