म्यांमार में भूकंप के तेज झटके, 2 दिन पहले जारी हुई थी सुनामी की चेतावनी

म्यांमर में भूकंप के तेज झटके मेहसूस किए गए। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक सेंट्रल म्यांमर में देर रात 6.0 की तीव्रता का भूकंप आया। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक भूकंप रिक्टर स्केल पर 6.0 की तीव्रता का था। हालांकि इस भूकंप से अभी तक किसी तक हताहत होने की खबर नहीं है।

म्यांमर में भूकंप

बता दें कि 2 दिन पहले ही मध्य अमेरिका के होंडुरस में रिक्टर पैमाने पर 7.8 तीव्रता के भूंकप के झटके दर्ज किए गए जिसके बाद आसपास के समुद्री तटों पर सुनामी की भी चेतावनी जारी की गई थी। अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण (यूएसजीएस) ने यह कहा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, भूकंप के केंद्र के सबसे पास स्थित होंडुरस के उत्तरी तट की आबादी काफी कम है। यूएसजीएस के मुताबिक मेक्सिको, जमैका, होंडुरस, क्यूबा, कोस्टा रिका के तटों पर सुनामी आ सकती है। प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र ने प्यूटरे रिको और वर्जिन आइलैंड्स में सुनामी की चेतावनी जारी की थी।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


वहीं 7 जनवरी को पश्चिमी ईरान के करमानशाह प्रांत में शनिवार को आए 5.1 तीव्रता के भूकंप में कम से कम 51 लोग जख्मी हो गए हैं। इसी प्रांत में वर्ष 2017 के अंत में विनाशकारी भूकंप आया था। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, करमानशाह के आपदा प्रबंधन कार्यालय के महानिदेशक, रजा महमूदियन ने रविवार को कहा कि 42 लोग सारपोल-ए जहाब शहर में घायल हुए, जबकि अन्य नौ लोग गिलान-ए गर्ब शहर में घायल हुए। भूकंप में फिलहाल किसी के मरने की खबर नहीं है।

सरकारी स्वामित्व वाली समाचार एजेंसी इरना के अनुसार, महमूदियन ने कहा, “राहत एवं बचाव दल तत्काल घटनास्थल पर पहुंच गए। सारपोल-ए जहाब वही शहर है, जहां 12 नवंबर, 2017 को प्रांत में आए 7.3 तीव्रता के भूकंप में 559 लोगों की मौत हो गई थी। महमूदियन ने कहा कि पिछले वर्ष के भूकंप में क्षतिग्रस्त हुईं कुछ इमारतें शनिवार को पूरी तरह नष्ट हो गईं। ईरानी भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार, शनिवार का भूकंप अपराह्न् 3.25 बजे आया था, जिसका केंद्र सारपोल-ए जहाब से सात किलोमीटर दूर आठ किलोमीटर की गहराई में स्थित था।

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X
loading...