मौन सुंदर है

मौन सुंदर है,इसे शब्द न दो।
शब्द बाँध देते हैं ,
अर्थ सीमित कर देते हैं।
मौन उन्मुक्त होता है,
अर्थ के लिए स्वतंत्र होता है।
इसलिए मौन को शब्द न दो,
उसे सुन्दर ही रहने दो।
जब मन से मन तक जायेगा,
सुन्दर वह और हो जायेगा!
शब्दों के अर्थ अलग-अलग लगाये जाते हैं,
कुछ सही, कुछ गलत बताये जाते हैं।
मौन स्वयं-स्वतःनिःशब्द शब्द बन जायेगा,
इसे कोई कलुषित न कर पायेगा।
मौन सुन्दर है।
मौन सुन्दर है।।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


पायल सिंह केन्द्रीय विद्यालय, बस्ती में अर्थशास्त्र की शिक्षिका हैं.

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On
X