मायावती ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना, कासगंज हिंसा में दोषियों के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई

कासगंज हिंसा पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। रविवार को जारी एक बयान में उन्होंने कहा कि बीजेपी शासित राज्यों में कानून व्यवस्‍था का बुरा हाल है। कासंगज में गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा का जिक्र करते हुए प्रदेश की कानून-व्यवस्‍था की तुलना जंगलराज से की। उन्होंने कहा कि बीजेपी और इनके सहयोगी संगठनों के अपराधीकरण का दुष्परिणाम देश में हर जगह हिंसा के रूप में नजर आ रहा है।

मायावती

मेरठ में मां-बेटे की हत्या पर भी उन्होंने योगी सरकार को घेरते हुए कहा कि सरकारी गवाहों की रक्षा करने में सरकार विफल साबित हो रही है। इसके चलते देश की न्यायपालिका दोषियों को सजा देने में अपंग महसूस कर रही है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


फिल्म ‘पद्मावत’ पर सुप्रीम कोर्ट के स्पष्ट निर्देश के बावजूद आरएसएस और सरकार के ढुलमुल रवैये ने प्रदेश और देश में कानून व्यवस्‍था को बिगड़ने दिया। इससे ये साफ हो जाता है कि बीजेपी व इनकी सरकारें किसी न किसी रूप में जातिवादी व सांप्रदायिक हिंसा व हिंसक प्रवृति को बढ़ावा देते रहना चाहती हैं।

देवबंदी उलमा ने जारी किया फतवा बोले- मुस्लिम महिलाओं का फुटबॉल मैच देखना हराम

बीजेपी नेताओं से आपराधिक मुकदमें वापस लेने की भी बसपा सुप्रीमो ने कड़ी निंदा की है।

loading...

Author: Akash Trivedi

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X