मायावती के लिए आई दिल्ली से बुरी खबर, केंद्र ने किया ये काम

लोकसभा चुनाव के बाद गुम होती राजनीतिक पहचान से जूझ रही बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. एक तरफ जहाँ बसपा को चुनाव दर चुनाव हार मिल रही है, वहीँ उसके नेता ही लगातार पार्टी छोड़ कर जा रहे हैं. इस बीच उनके लिए एक और बुरी खबर आई है.

मायावती ने भाजपा पर साधा निशाना, कहा- शब्बीरपुर में मेरी हत्या का था प्लान

माया को मिलने वाली एनएसजी सुरक्षा की क्विक रिस्पॉन्स टीम को वापस ले लिया गया है. यानी अब उन्हें सिर्फ मोबाइल सुरक्षा घेरा मिलेगा. मायावती को एनएसजी की सुरक्षा इंटेलिजेंस ब्यूरो की इनपुट रिपोर्ट के आधार पर मिली थी.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


nsg

अभी हाल ही में गृह मंत्रालय में वीआईपी सुरक्षा को लेकर बैठक हुई थी. इस बैठक में लोगों को मिलने वाली जेड, जेड प्लस, एक्स और वाई सुरक्षा पर चर्चा हुई थी.

इससे पहले मायावती ने अपनी जान को खतरा बताया था. मायावती की सुरक्षा में कटौती को कुछ लोग भाजपा और केंद्र सरकार की कारस्तानी बता रहे हैं. कहा जा रहा है कि यह सब मायावती पर दबाव बढ़ाने के लिए किया जा रहा है.

अपनी जमीन तलाश रहीं माया

योगी आदित्यनाथ ने पेश किया रिपोर्ट कार्ड, बोले सब है अच्छा

18 सितंबर को माया ने उत्तर प्रदेश के मेरठ में रैली की थी. रैली में माया ने पहली बार मेरठ में इतने बड़े मंच से अपने भाई के साथ भतीजे को ‘प्रोजेक्ट’ किया. इससे कयास लगाए जा रहे हैं कि माया ने अपने सियासी वारिस भी तलाश लिए हैं. मायावती ने पहले अपने भाई आनंद कुमार को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया. अब आनंद के बेटे व अपने भतीजे आकाश को पार्टी में एंट्री देकर उनकी सियासी पहचान बनाने की कवायद कर रही हैं.

यह भी देखें 

loading...

Author: Akash Trivedi

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X