भारतीयों और पाकिस्तानियों के बीच हुई झड़प, मूकदर्शक बनकर देखते रहे स्कॉटलैंड यार्ड के जवान

भारत और पाकिस्तान दो ऐसे मुल्क हैं जिनके बीच तनाव हर जगह देखने को मिल जाता है. इसी की एक झलक लंदन में इंडिया हाउस के बाहर प्रदर्शन में देखने को मिली. दोनों देशों के नागरिकों ने एक दूसरे पर जमकर भड़ास निकाली और बेचारे स्कॉटलैंड यार्ड के जवान मूकदर्शक बनकर सिर्फ देखते रहे. उन्हें ये समझ ही नहीं आया कि क्या किया जाए.

ममता बनर्जी के साथ लंदन गए पत्रकारों ने चुराए चम्मच, फिर भरा 50 पौंड का जुर्माना

लंदन में इंडिया हाउस के बाहर प्रदर्शन


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


दरअसल ये पूरा मामला उस समय पेश आया जब लंदन में भारत समर्थक और भारत का विरोध कर रहे पाकिस्तानी मूल के प्रदर्शनकारियों के बीच लंदन में टकराव के हालात उत्पन्न हो गए. इस दौरान पाकिस्तान मूल के लोगों ने खूब भारत विरोधी नारेबाजी की और झंडे लहराए.

भारत विरोधी प्रदर्शन की अगुवाई पाकिस्तान मूल के लॉर्ड नजीर अहमद कर रहे थे. इस प्रदर्शन के दौरान पाकिस्तान मूल के लोगों ने भारत के खिलाफ नारेबाजी की और खूब जहर आग उगला. इसके जवाब में भारतीय मूल के लोग भी वहां एकत्रित हो गए और पाकिस्तानियों की जमकर खबर ली और खूब सुनाया.

लंदन में तैनात भारतीय उच्चायुक्त ने इस प्रदर्शन की निंदा करते हुए इसे ‘एक बदनाम नेता की बेसब्र कोशिश’ करार दिया है. यहूदी विरोधी विवाद के बाद 2013 में नजीर अहमद को लेबर पार्टी से निलंबित कर दिया गया था.

अहमद के प्रदर्शन को नाकाम करने के लिए लंदन में भारतीय नागरिकों ने ‘चलो इंडिया हाउस’ का आह्वान किया. इसके बाद लंदन में इंडिया हाउस के बाहर दोनों पक्षों के लोग एकत्रित हुए और एक-दूसरे पर खूब भड़ास निकाली. इस दौरान वहां मौजूद स्कॉटलैंड यार्ड के जवान मूक दर्शक बने रहे.

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On
X