बड़ा हादसा टला, रूसी जेट से टकराते-टकराते बचा अमेरिकी लड़ाकू विमान

यूएस नेवी का निगरानी विमान काले सागर के ऊपर रूस के लड़ाकू जेट से टकराते-टकराते बचा. अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी करके इस घटना की पुष्टि की है और साथ ही विरोध भी दर्ज किया है. अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी करके कहा है कि सोमवार को रूस का एक लड़ाकू विमान काले सागर के ऊपर अमेरिकी नौसेना के एक निगरानी विमान के पांच फीट यानी करीब डेढ़ मीटर के दायरे में आ गया था. अमेरिका ने इस घटना को परस्पर असुरक्षित ऐक्शन करार दिया है.

सुखोई-30 लड़ाकू विमान में निर्मला सीतारमण ने भरी उड़ान

यूएस नेवी का निगरानी विमान


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


दोनों विमान करीब 2 घंटे 40 मिनट तक एक-दूसरे के आसपास रहे. पेंटागन ने कहा है कि अमेरिकी विमान अंतरराष्ट्रीय कानूनों के तहत ही उड़ रहा था और उसने रूस को इस तरह की गतिविधि के लिए उकसाया नहीं था. हालांकि, यह पहली बार नहीं है जब रूसी लड़ाकू विमान आसमान में अमेरिकी विमानों के करीब आ गए हों.

बीते साल नवंबर में भी अमेरिकी सेना ने बताया था कि एक रूसी लड़ाकू विमान उसके निगरानी विमान के करीब 50 फीट के दायरे में आ गया था, जिसकी वजह से यूएस एयरक्राफ्ट को 15 डिग्री तक झुकना पड़ा था. मई 2017 में भी इसी इलाके में रूसी जेट अमेरिकी सर्विलांस प्लेन के 20 फीट के दायरे मे आ गया था. बता दें कि साल 2014 में क्राइमिया पर रूस के कब्जे के बाद से ही अमेरिका ने काले सागर में निगरानी विमान भेज दिए थे.

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X