बिहार में नकारात्मक राजनीति के पर्याय बन चुके हैं सुशील मोदी : जदयू

बिहार में नकारात्मक

पटना. जदयू के मुख्य प्रवक्ता और विधान पार्षद संजय सिंह ने कहा है कि बिहार में नकारात्मक राजनीति के पर्याय बन चुके हैं सुशील मोदी. नीतीश कुमार ने बिहार की जनता से जो कहा है वो किया है. बीजेपी के नेता विधवा विलाप में माहिर हैं.

 

 



हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!




वे अपनी नाकामियों को नहीं देखते हैं और दूसरे में ऐब निकालते हैं. सिंह ने कहा कि बिहार बीजेपी के नेताओं के पास ऐसे मुद्दे रह नहीं गये हैं जिनके सहारे वो अपनी राजनीति को आगे बढ़ाए. केंद्र सरकार अपने तीन साल के शासन काल में अपनी रणनीतियों में फेल हो गयी है.

 

 

केंद्र सरकार में बैठे लोग झूठ बोलने में माहिर हैं. इनका झूठ बार-बार प्रकट होता रहता है. इनका वायदा था युवाओं को रोजगार दिलाएंगे,  भ्रष्टाचार खत्म करेंगे, महंगाई कम करेंगे. लेकिन  कुछ नहीं हुआ. केंद्र सरकार आर्थिक मोरचे पर पूरी तरह विफल हो गयी है.

विकास इनका एजेंडा नहीं

विकास इनका मूल एजेंडा नहीं है.  समाज को बांटना इनका असली एजेंडा है.  तीन साल बीत गया कोई उपलब्धि नहीं है. विकास  कैसे होगा इसका कोई नजरिया नहीं है. जब देखेंगे कि हर तरफ से पिट गये तो कोई न कोई भावनात्मक मुद्दा उठा कर लोगों का समर्थन हासिल करने की कोशिश करेंगे.  इससे सभी को सचेत रहने की जरूरत है.

loading...
loading...
=>

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*