नवंबर तक शहर की सभी सड़कें हो जाएं गड्ढामुक्त : डीएम

कानपुर। नवंबर तक जिले की सभी सड़कों को गढ्ढा मुक्त करा दिया जाए और मार्ग प्रकाश व्यवस्था को दुरुस्त बनाने के लिए सभी एलइडी लाइटों की मरम्मत की जाए। समस्त सरकारी अस्पतालों में इलाज के नाम पर कोई पैसे मांगता है तो उनसे शिकायत करें। कोई भी चिकित्सक किसी भी स्थिति में बाहर से दवा न लिखें वरना कार्रवाई की जाएगी। यह निर्देश सोमवार को जिलाधिकारी विजय विश्वास पन्त ने विकास भवन सभागार में समीक्षा बैठक में दिए। 

जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी पीएचसी, सीएचसी तथा सरकारी अस्पतालों में इलाज के नाम पर पैसा न लिया जाएं। अस्पताल प्रभारियों को अवगत कराया जाए कि शिकायत मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने स्वास्थ्य अधिकारियों को एंबुलेंस सेवा की क्रास चेकिंग करने के निर्देश दिए। कहा कि सीएमओ पिछले दो माह की कॉल की सूची उपलब्ध कराकर जांच कराएं और सुनिश्चत करें कि किसी भी एंबुलेंस स्टॉफ द्वारा मरीज व तीमारदार से पैसा न मांगा जाए। 

डीएम ने शिक्षा की गुणवत्ता बेहतर करने के लिए कहा कि जिन बच्चो की उपस्थिति 70 प्रतिशत है और उनकी कक्षा के हिसाब से शैक्षिकता में कमी है तो एबीएसए व अध्यापकों की जिम्मेदारी तय करते हुए कार्रवाई की जाए। विद्यालय में पंजिकृत बच्चे यदि लगातार अनुपस्थित रहते हैं तो अभिभावकों के साथ बैठक कर जागरूक कर शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने समय से स्कूलों में स्वेटर वितरण सुनिश्चित कराने की सख्त चेतावनी दी। 


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


जिलाधिकारी ने ग्राम पंचायतों में पूर्ण शौचालयों और उनके प्रयोग की रिपोर्ट तलब की। जिला पंचायत राज अधिकारी को सभी गांवों में प्रत्येक स्थिति में शौचालय निर्माण कराने और ग्रामों में सफाई कर्मी की उपस्थिति पर विशेष ध्यान दिये जाने को कहा। उन्होंने अति कुपोषित बच्चों का समय से वजन कराने और जिला अस्पतालों में भर्ती कराकर इलाज कराने के निर्देश दिये। 

जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा गोद लिए गांवों में भ्रमण की रिपोर्ट मुख्य विकास अधिकारी को भेजने के निर्देश दिए। डीएम ने प्रधानमंत्री सड़क ग्राम योजना के तहत निर्मित सड़को की रिपोर्ट और जल्द से जल्द कार्य पूरा करने के निर्देश दिये। प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा में विगत माह से कोई प्रोग्रेश अपडेट नहीं मिलने पर मुख्य विकास अधिकारी को डूडा विभाग में पुरानी मामलों की जांच करने के निर्देश दिए। जांच में कमी मिलने संबंधित कर्मचारी पर कार्रवाई करने को कहा। बैठक में समाज कल्याण, पंचायती राज, लोक निर्माण, कृषि एवं वन, जल निगम तथा नगर निगम के कार्यो की समीक्षा की। सीडीओ अजय त्रिपाठी, जिला विकास अधिकारी, समाज कल्याण अधिकारी भी मौजूद रहे।

loading...

Author: Web Wing

Share This Post On
X