ट्विंकल ने कहा- …जब माहवारी से मेरी यूनीफॉर्म में लग गया था दाग

ट्विंकल खन्ना और फिल्म ‘पैडमैन’ की टीम ने ‘माहवारी’ और ‘सैनिटरी पैड्स’ जैसे वर्जित विषय को अपनी आगामी फिल्म के लिए चुना है. फिल्म के प्रचार के लिए आईं ट्विंकल ने अपने जीवन की एक घटना बयां की, जिसे समाज एक शर्म का विषय मानता है.

अक्षय कुमार ने पत्नी ट्विंकल खन्ना को बर्थडे पर कुछ इस अंदाज में किया विश

ट्विंकल ने अपने जीवन की एक घटना बयां की


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


ट्विंकल ने एक दर्शक से बातचीत में उन्होंने कहा, “मुझे याद है जब मैं बोर्डिग स्कूल में थी तो वहां मुझे इन सब के बारे में बताने के लिए मेरे साथ मां या मौसी नहीं थीं. एक दिन स्कूल कैंटीन में मुझे लगा कि मेरे यूनीफॉर्म में दाग लग गया है, मैं कपड़े बदलने के लिए तुरंत भागी. मैं खुशकिस्मत थी कि वह दाग सिर्फ मैंने देखा.

उन्होंने आगे कहा, पिछले वर्ष अगस्त में दक्षिण भारत में एक शिक्षक ने 12 वर्षीय एक छात्रा को कक्षा से सिर्फ इसलिए बाहर निकाल दिया, क्योंकि माहवारी के कारण उसके कपड़े और सीट पर दाग लग गए थे. वह घर गई और उसने बालकनी से कूदकर जान दे दी. तो इस सामान्य शारीरिक क्रिया को लेकर शर्मिदगी का स्तर इस स्तर का है. मुझे उम्मीद है कि ‘पैडमैन’ के बाद लड़कियों में शर्म का स्तर कुछ हदतक कम होगा.”

‘पैडमैन’ एक कॉमेडी ड्रामा फिल्म है जो अरुणाचलम मुरुगननथम के जीवन पर आधारित है. वह तमिलनाडु में ‘पैड मैन’ के नाम से लोकप्रिय हैं. उन्होंने कम लागत वाले सेनेट्री पैड बनाने वाली मशीन का आविष्कार किया था. इस आविष्कार के बाद उन्हें पदम श्री से सम्मानित भी किया गया था. अब उसी पर अक्षय फिल्म लेकर आ रहे हैं जिसमें पैडमैन को सुपरहीरो बताया गया है.

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On
X