टमाटर के बाद अब आलू आंख दिखाने को तैयार

नई दिल्ली: देश भर में जिस तरह टमाटर का भाव 100 रुपए प्रति किलो तक पहुंचा है, उसी तरह देश के कुछएक शहरों में जुलाई के दौरान आलू की कीमतों में करीब 25 फीसदी तक का उछाल आ चुका है। केंद्रीय उपभोक्ता मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार कई शहरों में आलू की कीमतों मे एक चौथाई तक की तेजी आ चुकी है।

वायरल बुखार में लाभकारी हैं घरेलू नुस्खे

बिक्री उपभोक्ता मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक अहमदाबाद में जुलाई की शुरुआत में आलू का रिटेल भाव 15 रुपए प्रति किलो था जो 16 जुलाई को बढ़कर 20 रुपए तक पहुंच गया है, इसी तरह हरियाणा के पंचकुला में भी इस दौरान भाव 15 रुपए से बढ़कर 20 रुपए तक चला गया है। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में तो जुलाई के दौरान आलू की कीमतों में करीब 67 फीसदी तक का उछाल आया है, जुलाई की शुरुआत में देहरादून में आलू का रिटेल भाव 12 रुपए था लेकिन 16 जुलाई को यह बढ़कर 20 रुपए दर्ज किया गया है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


एक ओर जहां बाजार में आलू की कीमतों में तेजी दिख रही है वहीं दूसरी ओर इस तेजी का फायदा किसानों को नहीं मिल रहा। आलू विक्रेता किसान के फायदे में कोई बदलाव नहीं हुआ है, उसके लिए जो भाव जुलाई की शुरुआत में था उसी भाव पर उसका आलू अब भी बिक रहा है।

टमाटर

मंडी के खुदरा कारोबारियों का कहना है कि आड़तियों और सटोरियों के टमाटर के खेल को देखकर कहा जा सकता है कि बारिश के दौरान आलू की कीमतों में और भी बढ़ोतरी हो सकती है। वहीं कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि आलू उत्पादन के आंकड़ों से कहीं नहीं लग रहा है कि इसकी सप्लाई में कमी आएगी। कृषि मंत्रालय के मुताबिक 2016-17 सीजन के दौरान देश में करीब 465.46 लाख टन आलू का उत्पादन हुआ है जो 2015-16 में हुए उत्पादन के मुकाबले करीब 31 लाख टन अधिक है।

loading...

Author: Vineet Verma

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X
loading...