जबरदस्त शीतलहर की चपेट में है उत्तराखंड

देहरादून : समूचा उत्तराखंड इन दिनों जबरदस्त शीतलहर की चपेट में है। पहाड़ों पर लगातार बर्फबारी के दौर के बीच मैदान कोहरे की मार के साथ ही बर्फीली हवाओं से त्रस्त है। आलम यह है कि मसूरी में तापमान शून्य से चार और अल्मोड़ा में दो डिग्री नीचे चला गया। नतीजतन मसूरी और अल्मोड़ा में नलों में पानी तक जम गया। शुक्रवार मसूरी में सीजन का सबसे ठंड दिन रहा।

हाड़ कंपा देने वाली सर्दी के बावजूद शुक्रवार को सार्वजनिक अवकाश होने पर काफी संख्या में पर्यटक मसूरी पहुंचे, जिससे माल रोड व लाईब्रेरी और कुलड़ी बाजार में दोपहर से शाम तक अच्छी रौनक रही और गनहिल, कंपनी गार्डन, लालटिब्बा-चारदुकान और कैम्पटी फॉल पर्यटकों से गुलजार रहा।

cold 06012018


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार दून का न्यूनतम तापमान शनिवार को 5.3 डिग्री तक रहने की संभावना है। जिससे कड़ाके की ठंड एवं सुबह एवं शाम शीतलहर का प्रकोप रहेगा। आसमान मुख्यत: साफ रहने से लेकर आंशिक रूप से बादल छाये रहेंगे। अधिकतम तापमान 20 डिग्री रहने की संभावना है। शुक्रवार को अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान क्रमश: 21.1 व 5.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।केदारनाथ और मुनस्यारी में बर्फबारी1उच्च हिमालय में शुक्रवार को भी हिमपात का क्रम जारी रहा।

केदारनाथ में दोपहर बाद मौसम बदला और हिमपात शुरू हो गया। केदारनाथ में न्यूनतम तापमान शून्य से 11 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया है। बर्फबारी के कारण केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्य थमे हुए हैं। दूसरी ओर पिथौरागढ़ जिले के मुनस्यारी की पहाड़ियों ने भी बर्फ की चादर ओढ़ ली।दून में सुबह और शाम के समय हाड़ कंपाने वाली ठंड पड़ रही है।

अमेरिका ने पाक को फिर लताड़ा

शुक्रवार को हरिद्वार का अधिकतम तापमान 12.4 व न्यूनतम तापमान 8.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।तीन दिन तक रहेगा असर1राज्य मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक अगले 72 घंटों में प्रदेश के मौसम में बदलाव के आसार नहीं हैं। मैदानों कोहरा बना रहेगा।

पहाड़ों की रानी मसूरी में सर्दी सितम चरम पर है। दिन में चटख धूप का आनंद लेने के बाद शाम ढलते ही हाड कंपा देने वाली सर्दी से आम जनजीवन प्रभावित है। सुबह के समय तो आलम यह है कि सड़क पर पड़ा पाला भी जमकर बर्फ बना हुआ मिलता है। शहर के कुछ इलाकों में जहां पर धूप नहीं पहुंच पा रही है वहां पर दिन में ही पाला गिर रहा है। शुक्रवार सुबह पांच से छह बजे पारा शून्य से चार डिग्री सेल्सियश नीचे लुढ़क गया, लेकिन धूप निकलने के बाद नगरवासी कुछ राहत महसूस कर रहे हैं। उधर, निकटवर्ती यमुना और अगलाड़ घाटियां भी शीत की चपेट में हैं।

loading...

Author: Vatsaly

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X
loading...