चारा घोटाला: सीबीआई कोर्ट ने 35 करोड़ के मामले में लालू को दिया दोषी करार

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. चारा घोटाले के देवघर कोषागार मामले में लालू यादव पहले ही सजा काट रहे हैं और आज चारा घोटाले के चाईबासा कोषागार मामले में भी सीबीआई की विशेष अदालत ने अपना फैसला सुनाते हुए उन्हें दोषी करार दिया है.

लालू की सेवा करने के लिए रसोईये और सेवक ने खुद के खिलाफ दर्ज करवाया केस, पहुंचे जेल

लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


करीब 950 करोड़ के चारा घोटाले से जुड़े तीसरे मामले में आज रांची में सीबीआई की अदालत ने अपना फैसला सुनाया है. आपको बता दें लालू यादव इस महाघोटाले से जुड़े देवघर कोषागार मामले में रांची की बिरसा मुंडा जेल में साढ़े तीन साल की सजा काट रहे हैं.

चारा घोटाले के जिस मामले में आज सीबीआई की विशेष अदालत ने अपना फैसला सुनाया है वो मामला 1990 के दशक में चाइबासा ट्रेजरी से कथित तौर पर 35.62 करोड़ रुपये फर्जी तरीके से निकालने से जुड़ा है. उस वक्त लालू अविभाजित बिहार के मुख्यमंत्री थे.

चाईबासा मामले में अदालत ने अपना फैसला 10 जनवरी को सुरक्षित रख लिया था. सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एस एस प्रसाद ने इस मामले में आज फैसला सुनाया है. कल भी लालू रांची में सीबीआई की विशेष अदालत में पेश हुए थे.

चारा घोटाले से जुड़े जिस मामले में कल लालू की पेशी थी वो मामला डोरंडा कोषागार से 139 करोड़ की अवैध निकासी से जुड़ा है. चारा घोटाले का ये सबसे बड़ा मामला है. इस मामले में लालू समेत 120 आरोपी हैं.

साल 2018 का आगाज ही लालू को पांच साल की सजा के एलान के साथ हुआ. चौतरफा मुश्किलों में घिरे लालू के परिवार पर भी ईडी का शिकंजा कसता जा रहा हैं.

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On
X