गुजरात चुनाव: कांग्रेस के लिए वोट मांग रही ‘अमूल गर्ल’, समर्थकों ने बनाये पोस्टर

अपने मजाकिया वन लाइनर्स के लिए प्रसिद्ध ‘अमूल गर्ल’ को गुजरात चुनाव में कांग्रेस समर्थकों ने प्रचार का औजार बनाया है. सोशल मीडिया अभियान में वह कांग्रेस को समर्थन करती दिख रही है. ‘अमूल गर्ल’ लोगों से अपने अमूल्य वोट का इस्तेमाल राज्य से भाजपा को बाहर करने के बारे में कह रही है, जो राज्य में दो दशकों से ज्यादा समय से सत्ता में है.

'अमूल गर्ल'

आम टैगलाइन ‘क्योंकि आपका वोट बहुत अमूल्य है’ व ‘परिवर्तन है लाना, साथी हाथ बढ़ाना’ के साथ इस पोस्टर प्रचार अभियान में उतरे ज्यादातर कलाकार केरल से हैं. इसे लोकप्रिय अमूल डेयरी उत्पादों के ब्रांड को बनाने वाली गुजरात कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिग फेडरेशन के लिए दकुन्हा कम्युनिकेशन एडवरटाइजमेंट के द्वारा तैयार किया गया है.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


इसके प्रचार के कई विषयों पर आधारित पोस्टर सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर वायरल हैं. इन पोस्टरों में गुजरात में ‘डर’, नोटबंदी व जीएसटी के प्रभाव, लड़कियों की शिक्षा, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की संपत्ति में जबरदस्त बढ़ोतरी व बुलेट ट्रेन के बारे में बात की गई है.

इन पोस्टरों में जाहिर तौर पर नीले बालों वाली ‘अमूल गर्ल’ को नहीं दिखाया गया है, बल्कि उसी तरह का एक लड़का दिख रहा है.

कांग्रेस समर्थक इस प्रचार के पीछे काम कर रहे लोगों का कहना है कि वे आधिकारिक तौर पर कांग्रेस कार्यकर्ता या पार्टी समर्थक नहीं हैं, बल्कि वे राहुल गांधी के भाषणों से प्रभावित हैं, जिसमें उन्होंने कहा है कि गुजरात की लड़ाई कोऑपरेटिव बनाम कॉरपोरेट जगत की है.

इसमें से एक कलाकार ने कहा, “राहुल गांधी अपने भाषणों में कहते रहे हैं कि वे सहयोग के अमूल मॉडल का अनुसरण करेंगे और सहकारी समितियों में सभी को भाग लेने की अनुमति होगी.”

इस कार्य की प्रेरणा के बारे में पूछे जाने पर कलाकार ने कहा कि अमूल का विषय दशकों से पूरे भारत में लोकप्रिय है और यह लोगों को प्रभावित करने वाले दिन प्रति दिन के मुद्दों के बारे में बात करता है.

कलाकार ने कहा, “यह सरल व नुकसान नहीं पहुंचाने के साथ आलोचनात्मक है और बगैर अपमानजक होने के कारण ही हमने यह शैली चुनी है.” यह पूछे जाने पर कि प्रचार में राहुल गांधी को दिखाया गया है. कलाकार ने कहा, नहीं.

एक अन्य कलाकार ने कहा, “अमूल में छोटी लड़की है और हमने लड़के को बनाया यह आम आदमी है. हम कॉपीराइट मुद्दे की वजह से एक ही किरदार नहीं चाहते थे.

राहुल गांधी ने गुजरात के 26वें मंदिर में किए दर्शन, बाहर लगे मोदी-मोदी के नारे

उन्होंने यह भी कहा, “स्वाभाविक तौर पर राहुल गांधी ने भाजपा नेताओं के खिलाफ हर मुद्दे पर हर दिन निशाना साधा है. कलाकारों ने कहा कि प्रचार अभियान में केंद्र व गुजरात से जुड़े विषयों को कवर किया गया है. इसमें आर्थिक मुद्दों जैसे नोटबंदी व इसके बाद जीएसटी के कारण हुई दिक्कतों पर ध्यान केंद्रित किया गया है.

loading...

Author: Akash Trivedi

Share This Post On
X