कासगंज हिंसा पर योगी ने तोड़ी चुप्पी, बोले- अराजकता फैलाने वालों से सख्ती से निपटेंगे

लखनऊ. पिछले पांच दिनों से सांप्रदायिक हिंसा की चपेट में आए यूपी के कासगंज में हालात अब भी नहीं सुधरे हैं। इस बीच केंद्र ने प्रदेश की योगी सरकार से इस मामले में विस्तृत रिपोर्ट तलब की है। उधर, कासगंज हिंसा पर चुप्पी तोड़ते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने  कहा कि उनकी सरकार राज्य के हर नागरिक को सुरक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है और अराजकता फैलाने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।कासगंज हिंसा मामले में सीएम योगी ने प्रशासन को लापरवाही के लिए कड़ी फटकार लगाई थी।

कासगंज

योगी ने उच्च अधिकारियों के साथ मीटिंग की थी और जरूरी निर्देश भी दिए थे। जिसके बाद तत्कालीन एसपी सुनील सिंह को हटा दिया गया था। लेकिन इस मामले में योगी ने अबतक खुलकर कुछ नहीं बोला था।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


योगी ने चुप्पी तोड़ते हुए अराजक तत्वों को निशाने पर लिया। योगी ने दो टूक कहा, ‘हर नागरिक को सुरक्षा प्रदान करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। प्रदेश में भ्रष्टाचार और अराजकता के लिए कोई स्थान नहीं है।

भ्रष्टाचारियों और अराजकता फैलाने वालों से पूरी सख्ती से निपटा जाएगा।’ इस दौरान मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उनकी सरकार विकास का लाभ समाज के हर व्यक्ति तक पहुंचाएगी।

माना जा रहा है कि कासगंज में लगातार बिगड़ रहे हालात को देखते हुए ही योगी आदित्यनाथ ने यह कड़ी टिप्पणी की है। साथ ही उन्होंने अप्रत्यक्ष रूप से प्रशासन को भी चेताया है।

शाहरुख खान के बंगले पर आईटी की कार्रवाई, खेती की जमीन हड़पने का आरोप

दरअसल, कासगंज में हालात अब भी तनावपूर्ण बना हुआ है। हिंसा की छिटपुट घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। रविवार को जिंदगी पटरी पर आती दिखी लेकिन सोमवार को ही एक दुकान में आग लगा दी गई और मामला फिर तनावपूर्ण हो गया। वहीं मंगलवार को एक धार्मिक स्थल में तोड़फोड़ का मामला सामने आया है। इसके बाद से सांप्रदायिक तनाव गहराने की आशंका और बढ़ गई है।

loading...

Author: Akash Trivedi

Share This Post On
X