कासगंज हिंसा: चंदन गुप्‍ता की हत्‍या का मुख्‍य आरोपी सलीम गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के कासगंज में हुई सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए युवक चंदन गुप्ता की हत्या का मुख्य आरोपी सलीम गिरफ्तार कर लिया गया है। सलीम को कासगंज से ही गिरफ्तार किया गया है। पुलिस पिछले चार दिनों से सलीम की तलाश कर रही थी। सलीम को खोजने के लिए एसटीएफ को भी जिम्मेदारी दी गई थी।

मुख्य आरोपी सलीम

दरअसल, गणतंत्र दिवस के दिन कासगंज में हुई सांप्रदायिक हिंसा में 22 वर्षीय चंदन की मौत हो गई थी। इसमें सलीम को मुख्य आरोपी बनाया गया था। कहा जा रहा है कि सलीम ने ही छत से चंदन के ऊपर गोली चलाई थी।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


कासगंज के डीएम आरपी सिंह ने चंदन की हत्या के मामले में बड़ा खुलासा करते हुए इस बात की जानकारी दी थी कि छत से गोली चलाई गई थी। पुलिस ने हिंसा भड़काने के आरोप में करीब 118 लोगों को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन हत्या के आरोपी की गिरफ्तारी बाकी थी। सलीम को खोजते हुए पुलिस उसके घर भी गई थी, लेकिन वहां ताला लगा था।

पुलिस ने ताला तोड़कर घर की छानबीन भी की थी।26 जनवरी के दिन कुछ लोगों द्वारा तिरंगा यात्रा निकाली जा रही थी। यात्रा के दौरान ही दो समुदायों के बीच झड़प हो गई थी। यह झड़प देखते ही देखते इतनी बढ़ गई कि इसने सांप्रदायिक हिंसा का रूप ले लिया।

दोनों गुटों के बीच हुई इस झड़प में जहां चंदन की मौत हो गई थी तो वहीं अकरम नाम के एक शख्स की एक आंख फूट गई थी। फिलहाल कासगंज में तनाव का माहौल पसरा हुआ है।

किसी भी तरह की अप्रिय घटना होने की आशंका के मद्देनजर चप्पे-चप्पे में भारी संख्या में पुलिसबलों की तैनात की गई है। चंदन की हत्या 26 जनवरी के दिन हुई थी, लेकिन उसके बाद अगले तीन दिनों तक कासगंज हिंसा की आग में जलता रहा था।

वाराणसी में संत रविदास की चौखट पर पहुंचे सीएम योगी, कहा धर्म का अनुशासन सबसे बड़ा

27 जनवरी को कुछ लोगों ने बसों, कारों और दुकानों को आग के हवाले कर दिया था। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाइक ने हिंसा की घटना की कड़ी निंदा करते हुए इसे ‘कलंक’ और ‘शर्मनाक’ करार दिया था।

loading...

Author: Akash Trivedi

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X