कासगंज में कर्फ्यू के बीच फिर भड़की हिंसा, कई जगहों पर आगजनी और तोड़फोड़

उत्तर प्रदेश के कासगंज में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था और कर्फ्यू के बीच आज फिर से हिंसा भड़क उठी. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इसकी पुष्टि की है. ज्ञात हो कि शुक्रवार को गणतंत्र दिवस के अवसर पर तिरंगा यात्रा निकाल रहे लोगों पर पथराव के बाद कासगंज का माहौल हिंसक हो उठा था. शुक्रवार को भड़की हिंसा में एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी.

कासगंज का माहौल हिंसक

शनिवार को दोबारा हिंसा भड़कने के बाद पीएसी की 5 कंपनियां और आरएएफ की 1 कंपनी को तैनात कर दिया गया है. हालात का जायजा लेने और स्थिति को नियंत्रित करने के लिए एडीजी ज़ोन, आईजी और डीआईजी (रेंज) मौके पर पहुंच चुके हैं.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


कासगंज के नगर कोतवाली इलाके में दो समुदायों के बीच जमकर झड़प हुई, जिसके बाद बीती रात से ही इलाके में कर्फ्यू जारी है. इलाके में बड़ी संख्या में आरएएफ और पीएसी के जवान तैनात हैं. स्थिति नियंत्रण में है, हालांकि अभी भी माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है.

कासगंज का माहौल हिंसक

पुलिस के मुताबिक, विश्व हिंदू परिषद और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने मथुरा-बरेली हाईवे पर यह तिरंगा यात्रा निकाली थी. तिरंगा यात्रा जब नगर कोतवाली इलाके के बिलराम गेट के पास से गुजरी तो नारेबाजी को लेकर दो पक्षों में झड़प हो गई.

कहासुनी और झड़प बढ़कर हिंसा में तब्दील हो गई और तिरंगा यात्रा निकाल रहे लोगों पर पथराव भी किया गया. इसके बाद हिंसा और भड़क उठी. दोनों पक्षों के बीच जमकर पथराव हुआ और कई वाहनों को आग लगा दी गई और जमकर तोड़फोड़ की गई.

कासगंज का माहौल हिंसक

हिंसक झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई है. हालात पर काबू पाने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है और इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया. झड़प में दर्जनों लोग घायल हुए हैं और बड़ी संख्या में लोगों को हिरासत में लिया गया है. घायलों में से एक व्यक्ति की इलाज के दौरान मौत हो गई.

एडिशनल डीजी (लॉ एंड ऑर्डर) आनंद कुमार के अनुसार, यह पूर्व नियोजित हिंसा नहीं थी, जो हुआ अचानक हुआ. वहीं मुख्य सचिव (गृह) अरविंद कुमार ने बताया कि 12 से ज्यादा वाहनों व संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया है. पुलिस की भारी मौजूदगी है और हालात तनावपूर्ण हैं. लोगों को एहतियात के तौर पर घरों में रहने के लिए कहा गया है.

कासगंज का माहौल हिंसक

झड़प के दौरान गोलीबारी की भी खबरें हैं. पुलिस ने कहा कि तीन स्कॉर्पियो एसयूवी, दो मैजिक परिवहन वाहन व एक ट्रक को भी भीड़ द्वारा मथुरा-बरेली राजमार्ग पर निशाना बनाया गया. अनियंत्रित भीड़ ने पेट्रोल पंप के निकट एक गुमटी में आग लगा दी.

ये भी देखें:

loading...

Author: Ashutosh Mishra

Share This Post On
X