कर्नाटक: अल्पसंख्यकों के खिलाफ केस वापस लेगी सिद्दारमैया सरकार, भड़की भाजपा

बेंगलुरु. कर्नाटक में ‘निर्दोष अल्पसंख्यकों’ के खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लेने संबंधी सर्कुलर के बाद बीजेपी ने भले ही सत्तारुढ़ कांग्रेस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया हो, लेकिन कांग्रेस ने इसे बीजेपी का ‘अल्पज्ञान’ करार दिया है। कांग्रेस सरकार में मंत्री रामालिंगा रेड्डी ने कहा कि बीजेपी को अंग्रेजी नहीं आती है और यह केवल पुलिस का एक रिमाइंडर है।रामालिंगा रेड्डी ने अल्पसंख्यकों के खिलाफ दर्ज केस वापस लेने के संबंध में पुलिस के सर्कुलर पर मचे हंगामे पर कहा, ‘बीजेपी को अच्छे से अंग्रेजी समझ में नहीं आती है। वह कोई सर्कुलर नहीं है, बल्कि केवल एक रिमाइंडर ही है।

अल्पसंख्यक

अल्पसंख्यक नेताओं ने कहा था कि अल्पसंख्यकों के खिलाफ कुछ झूठे केस दर्ज हैं। आईजी ने सभी पुलिस अधीक्षकों (एसपी) को लेटर के जरिए रिमाइंडर भेजा है।’ दरअसल, कर्नाटक में एक सर्कुलर चर्चा का विषय बना हुआ है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


राज्य के सभी जिलों में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को यह सर्कुलर भेजा गया है। इसमें पुलिस अधिकारियों और हर जिले के एसपी से अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के खिलाफ चल रहे सांप्रदायिक हिंसा के मामलों को हटाने पर उनका मत मांगा गया है। यह सर्कुलर विधानसभा चुनाव 2018 से कुछ महीने पहले जारी किया है।

बीजेपी ने आरोप लगाया है कि सरकार की यह कोशिश उन मुसलमानों की मदद करने के लिए है जिनपर ऐसे मामले चल रहे हैं। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और नेता विपक्ष केएस ईश्वरप्पा ने इसे सांप्रदायिक राजनीति का चेहरा बताया है।

बीजेपी सांसद शोभा करांदलजे ने कहा, ‘क्या यह मुस्लिम राजनीति को बढ़ावा देना नहीं है? सिद्धारमैया सरकार कुछ वोटों के लिए गंभीर मामलों में शामिल लोगों को आजाद करना चाहती है। यह गलत है।’

वहीं मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बीजेपी पर पलटवार करते हुए कहा, ‘हम हर निर्दोष के खिलाफ मामले वापस लेना चाहते हैं, केवल निर्दोष मुसलमानों के ही नहीं।

मिशन कर्नाटक में जुटे राहुल ने दिया कार्यकर्ताओं को सन्देश, तैयार करें जनता का घोषणापत्र

हम किसानों और कन्नड़ आंदोलनकारियों के खिलाफ लगे मामलों को हटाने पर भी विचार कर रहे हैं। बीजेपी राज्य में दूसरी हार के डर से झूठ फैला रही है। सर्कुलर में कहीं भी मुसलमानों का नाम नहीं है, यह बीजेपी की कल्पना है।’

loading...

Author: Akash Trivedi

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X