एक लीटर पेट्रोल पर जानिए किता टैक्स लेती है सरकार

नई दिल्ली। पेट्रोल पर केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर 43 रुपए टैक्स वसूलती हैं। आईओसी की वेबसाइट के मुता‎बिक कच्चे तेल की कीमत और डॉलर-रुपया विनिमय दर को देखें तो ऑयल कंपनियां रिफाइनरियों से 26.65 रुपए प्रति लीटर में तेल खरीदती हैं। इसके बाद 4.05 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी और वैट वसूलती है।

मानो या न मानो: यहां बकरा दे रहा है दूध, वह भी पूरे डेढ़ पाव

पेट्रोल कीमतें बढ़कर 30.70 रुपए हो जाती है। फिर पेट्रोल पर 21.48 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से अतिरिक्त एक्साइज ड्यूटी वसूली जाती है। टैक्स के साथ पेट्रोल की कीमत बढ़कर 51.19 रुपए हो जाती है। ‎फिर 3.23 रुपए प्रति लीटर डीलर का कमीशन होता है। ‎जिससे पेट्रोल का दाम बढ़कर 54.42 रुपए प्रति लीटर हो जाता है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


दिल्ली में 27 फीसदी की दर से वैट लगाया जाता है जो कि 14.69 रुपए प्रति लीटर बनता है। इस हिसाब से दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत बढ़कर 70.38 रुपए प्रति लीटर हो जाती है। केंद्र और राज्य सरकार मिलकर पेट्रोल पर 163 फीसदी टैक्स वसूलती हैं।

तीन साल में सबसे ज्यादा बढ़े पेट्रोल के दाम

प्र‎तिदिन डीजल और पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से ग्राहकों को फायदा कम नुकसान ज्यादा हो रहा है। हर रोज की बढ़ती-घटती कीमतों के नए नियम से पेट्रोल की कीमत एक बार फिर 2014 के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है। मुंबई में एक लीटर पेट्रोल के भाव 80 रुपए के करीब पहुंच गए है।

सूरत में अचानक भड़की हिंसा के बाद दो बसें फूंकी, लाठीचार्ज

‎‎विशेषज्ञों का कहना है ‎कि पेट्रोल और डीजल की कीमतें वै‎श्विक बाजारों में पेट्रोल के दाम, क्रूड और डॉलर-रुपए की चाल पर निर्भर करते हैं। एक जुलाई से अब तक दिल्ली में पेट्रोल के दाम 7.29 रुपए प्रति लीटर बढ़ चुके हैं। बुधवार को दिल्ली में पेट्रोल का भाव 70.38 रुपए प्रति लीटर हो गया जबकि एक जुलाई को पेट्रोल के रेट्स 63.09 रुपए प्रति लीटर थे। वहीं इस दौरान मुंबई में पेट्रोल के भाव 74.30 रुपए प्रति लीटर से बढ़कर 79.48 रुपए प्रति लीटर हो गए है।

टैक्स

ऑयल मार्केटिंग कंपनियां तीन आधार पर पेट्रोल और डीजल के दाम तय करती हैं। पहला वै‎श्विक बाजार में कच्चे तेल का भाव, दूसरा देश में आयात करते समय भारतीय रुपए की डॉलर के मुकाबले कीमत। इसके अलावा तीसरा आधार वै‎श्विक बाजार में पेट्रोल-डीजल के क्या भाव हैं।

 

loading...

Author: Vineet Verma

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X
loading...