इलाहाबाद में फावड़े से काटकर साधु की हत्या

इलाहाबाद। इलाहाबाद के बहरिया इलाके में बंतरिया गांव स्थित शिवमंदिर के साधु की शनिवार रात फावड़े से काट कत्ल कर दिया गया। सुबह रक्त रंजित लाश तख्त के नीचे मिली। इस वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई। जानकारीही पुलिस के आला अफसर डाग स्क्वायड और फॉरेंसिक एक्सपर्ट सहित मौके पर पहुंच गये। फिलहाल माना जा रहा कि लूट के इरादे से हत्या की गयी।

यूपी में आज गरज के साथ हो सकती है बारिश

बहरिया थाना क्षेत्र के बंतरिया गांव में सोरांव-फूलपुर रोड पर शिव मंदिर है। तीन साल से करीब 55 वर्षीय नेपाली बाबा नाम के यह साधु मंदिर की देख रेख करते थे। श्रावण मास में मंदिर में विशेष कार्यक्रम चल रहा था। शनिवार की रात करीब 11 बजे मंदिर में भजन कीर्तन का कार्यक्रम समाप्त हुआ तो गांव वाले अपने अपने घर चले गए। बाबा भी मंदिर के बगल स्थित अपनी कुटिया के सामने तख्त पर मछरदानी लगा कर सो गए। भोर में कुछ लोग मंदिर पर गए तो बाबा की रक्त रंजित लाश देख सकते में आ गये।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


बाबा के गर्दन और सिर पर फावड़े से कई वार किया गया था और कुछ ही दूरी पर खून से सना हुआ फावड़ा भी पड़ा था। लाश के पास काफी मात्रा में खून बहा नजर आया। बाबा की हत्या की खबर से इलाके में सनसनी फैल गई और देखते ही देखते भीड़ जमा हो गई। जानकारी पाकर इंस्पेक्टर बहरिया अश्वनी कुमार भदौरिया, चौकी इंचार्ज सकिंदरा अविनाश कुमार फोर्स सहित मौके पर पहुंच गये। थोड़ी देर में क्षेत्राधिकारी फूलपुर अभिनव कनौजिया, एसपी गंगापार सुनील कुमार सिंह भी पहुंचे। मौके पर खोजी कुत्ता और फील्ड यूनिट को बुलाया गया और साक्ष्य जुटाने की कोशिश की गयी।

हत्या

खोजी कुत्ता मंदिर के पीछे से होता हुआ एक मकान तक पहुंचा पर इसके बाद ठिठक गया। बाबा श्रावण मास में भंडारा करना चाहते थे जिसके लिए लोगों से मांग कर धन जुटा रहे थे। अनुमान है कि रात में बदमाश कुटिया का ताला तोड़ कर लूटपाट करने लगे तो बाबा की नींद खुल गई। बाबा ने बदमाशों को पहचान लिया और विरोध करने पर उनको मौत के घाट उतार दिया गया। कुटिया में सामान बिखरा पड़ा था। पुलिस ने शक के आधार पर कुछ लोगों को हिरासत में ले रखा है। थाने में उनसे पूछताछ चल रही है।

loading...

Author: Vineet Verma

Share This Post On
X