आनंदपाल एनकाउंटर के बाद राज्य में अब एक और केस की सीबीआई जांच की मांग

कुशलगढ़| राजस्थान के कुशलगढ़ में नदी में बहे एसडीएम रामेश्वर दयाल मीणा का शव लेने से उनके परिजनों ने साफ़ इनकार कर दिया है। वे इस मामले में सीबीआई जांच की मांग कर रहे है। उनका आरोप है कि मीणा की हत्या हुई है।

दो दिन पहले एसडीएम मीणा गाड़ी समेत बारी नदी की रपट पर से बह गए थे। बाद में उनका ड्राइवर करीब ढाई किलोमीटर दूर सुरक्षित मिल गया था, लेकिन वह नहीं मिले।

काफी खोजबीन के बाद घटनास्थल से करीब 25 किलोमीटर दूर रविवार सुबह रामेश्वर दयाल मीणा का शव मिल गया।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


सीबीआई

साजिश के तहत रामेश्वर दयाल मीणा की हत्या की गई

इस बीच, मीणा के बेटे तथा अन्य परिजनों ने आरोप लगाय है कि यह हादसा नहीं है। साजिश के तहत रामेश्वर दयाल मीणा की हत्या की गई है। वे इस मांग को लेकर सीबीआई से जांच कराने की मांग कर रहे है।

परिजनों ने कहा है कि उनके शरीर पर चोट के निशान है व उनके कपड़े भी नहीं थे| और इतनी दूर शव आखिर गया कैसे? इस वजह से शाम तक उन्होंने शव नहीं लिया।

शव घटनास्थल से 25 किलोमीटर दूर आनंदपुरी क्षेत्र की अनास नदी के पास रखा हुआ है। शव खराब हो चुका है। बांसवाड़ा कलक्टर और एसपी ने परिजनों से समझाइश भी की, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला।

loading...

Author: Gupta

Share This Post On
X