अब कठिन हुआ सीए बनना, कोर्स में बदलाव

इंदौर: चार्टर्ड एकाउंटेंट बनने की चाह रखने वालों की राह अब और कठिन हो गई है। इंस्टिट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट ऑफ इंडिया (आईसीएआई) ने कोर्स में बदलाव कर दिया है। उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष सीए नीलेश एस. विकामसे ने इसकी जानकारी दी। उनके मुताबिक बदलाव से कोर्स में प्रवेश कठिन हो जाएगा।

अब तक कहा जा रहा था कि सीए के लिए प्रवेश तो आसान है, लेकिन इसके बाद कोर्स के अंदर छात्र फंसता चला जाता है और पास नहीं हो पाता। इसलिए एंट्री को भी थोड़ा मुश्किल किया गया है। इससे हमारा इनपुट-आउटपुट अनुपात सुधर जाएगा। उन्होंने कहा कि हमने सीपीटी को फाउंडेशन कोर्स में बदल दिया है। पहले 200 अंकों का ऑब्जेक्टिव पेपर होता था, जो अब 400 अंकों का कर दिया गया है।

जिस लड़की से करता था प्यार, उसी के परिजनों ने मां से किया दुराचार


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


इसमें 200 अंकों का ऑब्जेक्टिव और 200 का सब्जेक्टिव पेपर होगा। इंडस्ट्रीज के सुझाव के आधार पर कुछ नए विषय जोड़े गए हैं। इसमें बिजनेस इकोनॉमिक्स और जनरल फाइनेंशियल नॉलेज विशेष रुप से शामिल किए गए हैं। फाइनल में पहले आईटी का 100 अंकों का पर्चा होता था, जिसे अब प्रैक्टिकल में तब्दील कर दिया गया है।

ca 31122017

छात्रों की पसंद को ध्यान में रखते हुए एक ऐच्छिक पेपर भी जोड़ा गया है। सीए एसोसिएशन ने तीन साल के रिसर्च के बाद ये बदलाव किए हैं। कोर्स को अब इंटरनेशनल एकाउंटिंग स्टैंडर्ड के अनुरूप बना दिया गया है।

loading...

Author: Vineet Verma

Share This Post On
X