अनियमित पीरिड्स से हैं परेशान, तो अदरक, इमली का करें इस्तेमाल

अक्सर कहा जाता है कि टेंशन और स्ट्रेस एक ऐसा दीमक है, जो शरीर को धीरे-धीरे खोखला करता जाता है. ऐसे में पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को ज्यादा स्ट्रेस और टेंशन में देखा जाता है. महिलाएं चाहकर भी खुद को इससे दूर नहीं कर पाती हैं, जिसके कारण उन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है. स्ट्रेस का सबसे ज्यादा असर महिलाओं के पीरियड्स पर पड़ता है. अनियमित पीरियड्स लगभग हर महिला की परेशानी है. लेकिन अनियमित पीरियड्स से निपटने के लिए आपको डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं, बल्कि कुछ घरेलू उपायों से भी इन्हें दूर किया जा सकता है. आइए जानें कैसे-

अनियमित पीरियड्स

दालचीनी- अनियमित पीरियड्स को नियमित करने के लिए एलोपैथिक दवाओं की ओर रुख करने से अच्छा है अपनी किचन में ही इसका इलाज ढूंढा जाए. डायटिशियन अनिता लांबा बताती हैं कि रोजमर्रा में इस्तेमाल होने वाली सामग्री से ही पीरियड्स को नियमित किया जा सकता है. किचन में रखी दालचीनी इसमें रामबाण साबित हो सकती है. पीरियड्स को रेगुलर करने के साथ-साथ इस दौरान होने वाले दर्द से भी बचाने में लाभदायक है. इतना ही नहीं, इसमें मौजूद हाइड्रोऑक्सिचलकोन पीरियड्स के दौरान इन्सुलिन के स्तर को बनाए रखता है.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


ऐसे करें इस्तेमाल- आधा चम्मच ताजा पीसी दालचीनी एक गिलास दूध में मिलाएं और इसे नियमित रूप से अपने रूटीन में शामिल करें. अगर आप दूध में डालकर नहीं पी सकते, तो इसे कई दूसरे तरीकों से भी शामिल किया जा सकता है. जैसे- चाय, खाने में ऊपर से डालकर या इसकी लकड़ी को चबा कर अपना रूटीन बना सकते हैं.

अनियमित पीरियड्स

अदरक या सौंठ- सूखा अदरक भी पीरियड्स को नियमित करने में सहायक माना जाता है, यह पीरियड्स के फ्लो को सही करने और दर्द को कम करने में लाभदायक होती है. आप इसे कच्चा भी खा सकते हैं या फिर इसका जूस पी सकते हैं. दोनों ही उपाय आपके पीरियड्स समय पर लाने में मदद करेंगे. आप अदरक चाय में डालकर भी अपने रूटीन में शामिल कर सकते हैं.

ऐसे करें इस्तेमाल- अदरक को कद्दूकस करके उसे स्टील के बाउल में रखें. उसमें थोड़ा-सा पानी डालकर गैस पर रखें. इसमें थोड़ी चीनी डालकर पांच मिनट बाद गैस बंद कर दें. गर्मा-गर्म पीएं.

अनियमित पीरियड्स

कच्चा पपीता- स्ट्रेस और मोनोपोस के कारण पीरियड्स में होने वाली अनियमितता को दूर करने का रामबाण इलाज कच्चा पपीता है. इसमें मौजूद पौष्टिक तत्व जैसे आयरन, कौरोटीन, कौल्शियम, विटामिन ए और सी गर्भाश्य की सिकुड़ी हुई मांसपेशियों को फाइबर पहुंचाने का काम करते हैं. कुछ महीने तक कच्चा पपीता खाएं या उसका जूस पीएं और खुद देखें कच्चे पपीते का जादू.

ऐसे करें इस्तेमाल- पीरियड्स आने से कुछ दिन पहले, कच्चा पपीता खाना शुरू कर दे्ं. एक बाउल में पपीते के छोटे टुकड़े काट लें. इसके ऊपर एक चम्मच दही डालें और ब्रेकफास्ट में शामिल करें. कोशिश करें कि इसे नियमित तौर पर ब्रेकफास्ट स्नैक की तरह लें.

अनियमित पीरियड्स

इमली या खट्टे खाद्य पदार्थ- अपने मासिक धर्म को नियमित रखने के लिए इमली जैसे खट्टे खाद्य पदार्थ अपनी लाइफ में शामिल किए जा सकते हैं। इमली का गुद्दा ऐसे में बहुत ही सही साबित हुआ है।

ऐसे करें इस्तेमाल- इमली को चीनी के साथ पानी में एक घंटे के लिए भिगो कर रख दें. अब इसमें नमक, चीनी और पीसा हुआ जीरा पाउडर मिलाएं. इसे टेस्टी और कारगार ड्रिंक को दो दिन में एक बार पी लें.

अनियमित पीरियड्स

चुकंदर- डायटिशियन अनिता लांबा का कहना है कि चुकंदर में कई जरूरी पोषक तत्व और आयरन, फॉलिक एसिड आदि पाए जाते हैं, जो अनियमित मासिक धर्म को नियमित करने में कारगर साबित होते हैं. यह हार्मोन्स के संतुलन को सही करने में मदद करते हैं, इसलिए कोशिश करें की नियमित रूप से चुकंदर आपकी डाइट में शामिल हो सके.

ऐसे करें इस्तेमाल- चुकंदर सेहत और पीरियड्स दोनों के लिए बेस्ट माना जाता है. आप इसे कई तरीकों से अपने रूटीन में शामिल कर सकते हैं. सलाद, सब्जी या इसका जूस निकाल कर पी सकते हैं. साथ ही, दही में चकूंदर को कद्दूकस करके भी डाल सकते हैं.

अनियमित पीरियड्स

ये भी देखें:

loading...

Author: Gargi Tripathi

Share This Post On

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X